पटना, छपरा, आरा व भोजपुर के घाटों पर बालू खनन बंद, कंपनी ने रखी बिहार सरकार ये मांग

0
716
PAY NOW

सारण डेस्क:- बड़ी खबर आपको बता दें कि अब बालू और भी महंगा हो सकता है। प्राप्त जानकारी के अनुसार बताया है कि छपरा पटना तथा आरा- भोजपुर के बालू घाटों को चलाने के लिए जिस कंपनी को टेंडर दिया गया था वह कंपनी ने अब हाथ खड़ा कर दिया है। आपको बता दें कि इन घाटों को चलाने के लिए अधिकृत कंपनी ब्रॉडसन कमोडिटीज प्राइवेट लिमिटेड को टेंडर दिया गया था। कंपनी के द्वारा बालू माफियाओं से सुरक्षा की गुहार प्रशासन से लगाई गई थी। लेकिन प्रशासन सुरक्षा देने में नाकाम साबित हो रही है। बालू माफियाओं के द्वारा कंपनी के कई कर्मचारियों पर हमला किया जा चुका है जिसको लेकर कंपनी ने बिहार सरकार को त्राहिमाम संदेश भेजा है। जिसमें कहा गया है कि अगर सुरक्षा मुहैया नहीं कराई गई तो बालू घाटों का संचालन अब मुश्किल होगा।

बताया गया कि बालू घाटों का टेंडर होने के बाद भी अवैध खनन, ढुलाई व बिक्री का खेल जारी है। कंपनी के अधिकारियों का आरोप है कि बालू माफिया के हजारों अवैध ओवरलोड ट्रक, ट्रैक्टर दिन के उजाले में खुलेआम चल रहे हैं, लेकिन प्रशासन की मिलीभगत होने के कारण उन पर कोई रोकटोक नहीं है। इससे कंपनी को तो घाटा है ही, सरकार को भी राजस्व की चपत लग रही है। घाटों पर माफिया राज कायम करने के लिए आए दिन गोलीबारी होती है।

बिहार में बालू बंद होने से उसमें काम करने वाले मजदूर हो की समस्या है और बढ़ जाएगी एक तो पूरा देश कोराेनाना के कारण त्राहिमाम कर रहा है। दूसरी तरफ बालू बंद होने से उसमें काम करने वाले हजारों हजार मजदूरों के साथ ट्रक मालिकों की भी परेशानी बढ़ेगी। गरीब मजदूरों के समक्ष रोजी-रोटी की समस्या उत्पन्न हो जाएगी। बालू खनन को लेकर चल रहे सरकार और ब्रॉड सन कमोडिटीज प्राइवेट लिमिटेड के बेहतर तालमेल की कमी के कारण ही इस तरह की स्थिति उत्पन्न हुई है जिससे कंपनी ने अपना कारोबार समेट का निर्णय लिया। अब देखना है कि सरकार इस दिशा में कौन सा कदम उठा रही हैबालू खनन बंद हो जाने से बालू के दामों मे बढ़ोतरी होना स्वाभाविक है इससे हजारों गरीब मजदूरो के समक्ष रोजी-रोटी की समस्या भी उत्पन्न होगी। कोरोना के समय मे रोजी रोटी की समस्या उत्पन्न हो गई है । ऐसे मे अब देखना है कि सरकार और कंपनी के बीच कब तक मामला सुलझ पाता है,आने वाला समय ही बताएगा।

करोड़ों का टेंडर लेकर ठगा महसूस कर रहे

ब्रॉडसन कमोडिटीज प्रा. लि के निदेशक डॉ. अशोक कुमार ने कहा कि छह करोड़ का टेंडर लेकर हम लोग ठगा महसूस कर रहे हैं। माफिया से सुरक्षा नहीं मिलने के कारण काफी घाटा हो रहा है। एक मई से पटना, भोजपुर और छपरा के सभी घाट बंद कर रहे हैं, क्योंकि हमारे पास माफिया से लडऩे की ताकत नहीं है और प्रशासन ध्यान नहीं दे रहा है। हालांकि इस फैसले के बाद सारण, पटना और आरा-भोजपुर के बालू घाट बंद कर दिए जाएंगे।

पति का दाह संस्कार कर छपरा लौटी पत्नी तो घर में हो गई थी 4 लाख की चोरी

छपरा:गांव के चंवर में प्रेम का इजहार करने वाले प्रेमी युगल के राहगीर बने बाराती, जबरन मंदिर में करवा दी शादी

दरभंगा सड़क दुर्घटना में सारण के युवक की मौत परिजनों में मचा कोहराम

ताजा खबर तुरंत जानने के लिए हमारे मोबाइल एप्प को डाउनलोड करें

https://play.google.com/store/apps/details?id=com.app.chapratak

पानापुर में भारी मात्रा में अंग्रेजी शराब के साथ धंधेबाज गिरफ्तार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here